ग्रामीण क्षेत्र में चिकित्सा व्यवस्थाओं को सुदृढ बनाने के लिए जिला कलेक्टर ने दिये निर्देश

0
45

मंथन 24 न्यूज नेटवर्क : झालावाड़। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए चलाए जा रहे घर-घर सर्वे, टीकाकरण एवं ग्रामीण क्षेत्रों की चिकित्सा सुविधाओं को सुदृढ़ करने के संबंध में जिला कलक्टर हरि मोहन मीना की अध्यक्षता में पंचायत समिति पिड़ावा मुख्यालय सुनेल के सभागार तथा तहसील कार्यालय पिड़ावा के सभागार में बुधवार को ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक का आयोजन किया गया।

बैठक में जिला कलक्टर ने कहा कि कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए घर-घर सर्वे के दौरान खांसी, जुकाम, बुखार, बदन दर्द आदि लक्षणों वाले व्यक्तियों का इलाज घर पर ही चिकित्सकीय परामर्श से किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कोरोना के नए केस नहीं आएं इसके लिए तत्काल प्लानिंग की जाए। उन्होंने उपखण्ड अधिकारी पिड़ावा को पंचायत समिति के सरपंचों की बैठक लेकर विलेज कोर एवं एंटी कोविड टीम को मजबूत बनाने के निर्देश दिए है।

उन्होंने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए ग्रामीण स्तर पर चिकित्सा व्यवस्थाओं को सुदृढ़ करना होगा। उन्होंने व्यक्ति के ऑक्सीजन लेवल नापने में ऑक्सीमीटर को महत्वपूर्ण यंत्र बताते हुए यह यंत्र ग्राम पंचायत सुनेल के ग्राम विकास अधिकारी, सरपंच, वार्ड पंच, बीएलओ, आशा, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को उपलब्ध कराने के निर्देश विकास अधिकारी हनुमान मीणा को दिए।  

जिला कलक्टर ने कोविड-19 से बचाव के लिए टीकाकरण को पूर्णतया सुरक्षित एवं प्रभावी बताते हुए कहा कि 45 से अधिक आयु के व्यक्ति जिनको कोरोना के टीके की एक भी डोज नहीं लगी है वो पहली डोज लगवाएं और जिन व्यक्तियों को प्रथम डोज लगे निर्धारित अवधि पूर्ण हो चुकी है वे नजदीकी सेन्टर पर जाकर दूसरी डोज लगवाएं। उन्होंने 18 से 44 आयु वर्ग के व्यक्तियों को प्रथम डोज लगवाने का भी आग्रह किया। उन्होंने कहा कि महामारी की रोकथाम में दोनों डोज लगना अनिवार्य है।

उन्होंने कहा कि कोरोना जैसी महामारी से निपटने के लिए ग्रामीण स्तर तक चिकित्सा व्यवस्थाओं को सुदृढ़ करना होगा। उन्होंने बताया कि सीएचसी ढाबलाखींची, रायपुर, पिड़ावा, सुनेल में शीघ्र ही ऑक्सीजन प्लान्ट लगाए जाएंगे। इसके साथ-साथ प्रत्येक सीएचसी में 40 बड़े ऑक्सीजन गैस के सिलेण्डर तथा पीएचसी स्तर पर 10 बडे़ व 10 छोटे ऑक्सीजन सिलेण्डर रखें जाएं।

जिला कलक्टर ने उपखण्ड अधिकारी पिड़ावा उम्मेद सिंह को क्षेत्र के राजकीय अस्पतालों की चिकित्सा व्यवस्थाओं की स्वयं मॉनिटरिंग एवं समीक्षा करने के निर्देश प्रदान किए हैं। इस दौरान पुलिस उपाधीक्षक धन्नाराम, कार्यवाहक तहसीलदार सुनेल राजेन्द्र कुमार मीणा सहित अन्य अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

सीएचसी ढाबलाखींची का किया निरीक्षण

जिला कलक्टर ने पंचायत समिति पिड़ावा के ग्राम ढाबलाखींची स्थित सीएचसी का निरीक्षण कर चिकित्सा व्यवस्थाओं का जायजा लिया एवं आवश्यक दिशा-निर्देश प्रदान किए।  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here